विशेष पोस्ट

बेहद दुखद : बेटी की शादी के लिए किडनी बेचने अस्पताल पहुँची माँ, दर्द सुनकर कांप उठेगा कलेजा!

एक माँ की मज़बूरी और लाचारी की ऐसी दास्तान जिसे सुनकर आपका कलेजा कांप उठेगा। यह कहानी मजबूर माँ कि है, जिसको ये भी नहीं पता था कि किडनी बेचने से कितनी रकम मिलेगी? फिर भी वह किडनी बेचने को तैयार हैं, क्योकि उन्हें भरोसा है कि किडनी बेचने से उतनी रकम मिल जाएगी, जिससे वह अपनी बेटी की शादी कर सकें। हर माँ की तरह वीना भी अपनी बेटी को शान से विदा करें।

एक माँ वह छह महीने से अफसरों का चक्कर काट रही हैं। बता रही हैं कि बेटी की शादी 23 नवंबर को है। कुछ मदद नहीं मिली तो शादी नहीं कर पाएंगी। इसके बावजूद किसी का भी दिल नहीं पसीजा। वीना अब लोगो से मदद की गुहार लगा लगा कर निराश हो गयी फिर थक-हारकर वीना किडनी बेचने का फैसला लिया हैं।

दो बच्चों के पिता और बिछिया निवासी सच्चिदानंद श्रीवास्तव की पत्नी का निधन हुआ तो उन्होंने बिहार के मुजफ्फरपुर की वीना श्रीवास्तव से 1995 में शादी कर ली थी। एक साल तक सब कुछ ठीक चला। फिर 1997 में बेटी पैदा हुई तो सच्चिदानंद ने विवाद खड़ा कर दिया। क्योकि पति ने कहा पहली पत्नी से दो बेटे हैं और अब वह अपनी बेटी को जायदाद का हिस्सा नहीं देंगे।

विवाद बढ़ा और मार्च 2002 में वीना का पति से तलाक हो गया। अब सच्चिदानंद नागालैंड के दीमापुर में अपने बच्चों के पास रहते हैं। वीना बिछिया में ही किराये के मकान में रहती हैं। वीना की बेटी अब 21 साल की हो गई है।

मुजफ्फर नगर के रवि रंजन श्रीवास्तव से उसकी शादी तय है। 22 नवंबर को हल्दी की रस्म और 23 नवंबर को शादी तय है। अब वीना परेशान हैं कि बिना पैसे के शादी करें तो कैसें? वीना डीएम और एक विधायक से मिल चुकी हैं लेकिन हर जगह से उनको निराशा ही हाथ लगी। अब किडनी बेचकर पैसा जुटाने के अलावा कोई रास्ता नहीं दिख रहा है।

शिकायती पत्र के साथ वीना बृहस्पतिवार को एसएसपी शलभ माथुर से मिलने वाली थीं लेकिन वीआईपी मूवमेंट की वजह से ऐसा नहीं हो सका। अब वह शुक्रवार को एसएसपी से मिलकर मदद की गुहार लगाएंगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button