ब्लॉग

भय्यूजी महाराज के मौत का पता चला , मिले सुसाइड नोट से हुआ खुलासा…

धर्मगुरु और शिवराज सरकार में राज्य मंत्री भय्यूजी महाराज ने खंडवा रोड स्थित आवास पर खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी , आनन फानन में उन्हें इंदौर के बॉम्बे अस्पताल ले जाया गया जंहा पे इस बात की पुष्टि हुए , उन्होंने अपनी लाइसेंसी रिवॉल्वर से अपने सिर में गोली मार ली थी , उन्हें हाल ही में राज्य मंत्री का दर्ज़ा मिला था , मौत के ढेर सारे कयास लगाए जाने के बाद उनका सुसाइड नोट मिला है जिसमे उन्होंने बहुत संक्षिप्त पे अपने मौत का कारण लिखा है .

महाराज भय्यूजी के मिले इस सुसाइड नोट से पता चलता है की वो तनाव में थे , सुसाइट नोट में लिखा है की , ‘पारिवारिक जिम्मेदारियां को संभालने के लिए किसी को वहां होना चाहिए. मैं बेहद परेशानी में हूं और तनाव के साथ जा रहा हूं.’

हलाकि पुलिस अभी भी जांच कर रही है , प्राथमिक जांच में पुलिस ने आत्महत्या की वजह घरेलू विवाद के तनाव को बताया है। हालाँकि उन्होंने सुसाइड नोट में किसी को आरोपी नहीं बताया , लेकिन पारिवारिक कलह का जिक्र करते हुए उन्होंने खुद को बेहद तनाव मे होना बताया है।

उन्होंने पहली पत्नी की मौत होने के बाद , उन्होंने करीब 49 साल की उम्र में दूसरी शादी की थी. पहली बीवी से पहली शादी से उनकी एक बेटी कुहू है, जो पुणे में रहकर पढ़ाई कर रही है.बताया जा रहा है की , भय्यूजी महाराज की दूसरी शादी के बाद बेटी ने उनसे दूरी बना ली थी वह पुणे से बहुत कम ही घर (इंदौर) आती थी। कुहू और उनके दूसरी बीवी में बनती नहीं थी , पत्नी आयुषी ने परिवारिक तनाव का जिक्र करते हुए एक-दूसरे पर सीधे आरोप लगाए। इस दौरान बेटी कुहू ने कहा कि मैं उन्हें (डॉ. आयुषी को) अपनी मां नहीं मानती। उन्हीं की वजह से पिता ने यह कदम उठाया। उन्हें जेल में बंद कर दीजिए। वहीं दूसरी पत्नी डॉ. आयुषी का आरोप है कि कुहू को मैं और मेरी बेटी पसंद नहीं थी। इन्ही सब कारणों से पता चलता है की वो काफी मानसिक दबाव में थे , और उन्होंने खुद को गोली मार ली I

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button