विशेष पोस्ट

PM मोदी ने किया इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक का उद्घाटन, देशभर में शुरू होंगी 650 ब्रांच!

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (IPPB) का उद्घाटन कर दिया है। राजधानी के तालकटोरा स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री की तरफ से इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (IPPB) की शुरुआत की गई। बैंक की शुरुआत करने का लक्ष्य ग्रामीण इलाकों को वित्तीय सेवाओं से जोड़ने का है।

इस साल 2018 के अंत तक इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक से देश के सभी 1 लाख 55 हजार डाकघरों को जोड़ने की योजना है। शुरुआत में आईपीपीबी की देशभर में 650 ब्रांच और 3,250 सर्विस सेंटर काम करेंगे।

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की शुरुआत के मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि अब आपको देश में डाकिया बैंकिंग सेवाएँ मुहैया कराएगा। उन्होंने कहा कि अब आपको न एटीएम और मोबाइल अलर्ट के लिए चार्ज नहीं देना होगा।

पीएम ने देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि आपका सरकार पर विश्वास डगमगाया होगा पर डाकिये पर नहीं। देश में डाकिया हर घर से भावनात्मक रूप से जुड़ा हुआ है। आईपीपीबी में आपके लिए घर पर बैठे हुए ही खाता खुलवाना आसान हुआ। उन्होंने बताया कि देश में स्थित 1:55 लाख डाक घर इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक बन जाएंगे।

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की कुछ खास बातें:

  • जिले में कम से कम एक पेमेंट्स बैंक की ब्रांच खोली जाएगी।
  • पेमेंट्स बैंक की शुरुआत का लक्ष्य ग्रामीण इलाकों में वित्तीय सेवाएं मुहैया कराना है।
  • ग्रामीण इलाकों में वित्तीय सेवाएं मुहैया कराने के लिए सभी 1:55 लाख डाकघरों को इनसे जोड़ा जाएगा। इससे देश में सबसे बड़ा बैंकिंग नेटवर्क तैयार होगा।
  • इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक से 17 करोड़ पोस्टल सेविंग बैंक अकाउंट को लिंक किया जाएगा।
  • आईपीपीबी के जरिए ग्रामीण इलाकों में लोग डिजीटल बैंकिंग और फाइनेंशियल सर्विसेज का फायदा उठा सकेंगे।
  • पेमेंट्स बैंक के माध्यम से किसी भी बैंक खाते में मनी ट्रांसफर भी किया जा सकेगा।
  • पोस्टल पेमेंट बैंक के जरिए ग्राहक RTGS, NEFT, IMPS ट्रांजेक्‍शन जैसी सुविधाओं का भी लाभ ले सकेंगे। किसी भी अकाउंट से इनके जरिए राशि प्राप्त कर सकेंगे।
  • थर्ड पार्टी टाइअप के माध्यम से आईपीपीबी के खाताधारक किसी भी प्रकार की वित्तीय सुविधाओं का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • सरकार की तरफ से पेमेंट्स बैंक का इस्तेमाल नरेगा का वेतन, सब्सिडी, पेंशन आदि के वितरण में किया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button