विशेष पोस्ट

OnePlus Nord 2T 5G को इस महीने के अंत में भारत में जारी किए जाने की उम्मीद है।

पिछले महीने, OnePlus ने चुनिंदा यूरोपीय बाजारों में OnePlus Nord 2T 5G की शुरुआत की, और फर्म अब स्पष्ट रूप से संयुक्त राज्य अमेरिका में स्मार्टफोन लॉन्च करने की तैयारी कर रही है।

पिछले महीने, OnePlus ने कुछ चुनिंदा यूरोपीय बाजारों में OnePlus Nord 2T 5G की शुरुआत की, और अब अफवाह है कि कंपनी भारत में इसे लॉन्च करने की योजना बना रही है। टिपस्टर पारस गुगलानी के मुताबिक, OnePlus Nord 2T 5G इस महीने के आखिर में भारत में लॉन्च हो सकता है। टिपस्टर के मुताबिक, उद्योग के सूत्रों से जानकारी मिली है। वनप्लस ने सार्वजनिक रूप से भारत में स्मार्टफोन पेश करने की किसी योजना की घोषणा नहीं की है, लेकिन पूर्व रिलीज के आधार पर, ऐसा प्रतीत होता है कि स्रोत द्वारा दी गई जानकारी सही है।

यदि टिपस्टर के आरोप सही हैं, तो भारत में OnePlus Nord 2T 5G के यूरोपीय संस्करण के समान विनिर्देश होंगे। OnePlus Nord 2T 5G में वह सब कुछ है जो आपको जानना चाहिए।

OnePlus Nord 2T 5G के लिए विशिष्टताएं

OnePlus Nord 2T 5G का AMOLED डिस्प्ले 6.43 इंच का है। डिस्प्ले में FHD+ रेजोल्यूशन और 90Hz तक का रिफ्रेश रेट है। इसमें ऊपरी बाएं कोने में एक पंच होल के पीछे एक सेल्फी कैमरा भी है।

Mali-G77 MC9 GPU के साथ MediaTek डाइमेंशन 1300 चिपसेट OnePlus Nord 2T 5G के केंद्र में है। SoC 5G को सपोर्ट करता है और 8GB तक रैम और 256GB इंटरनल स्टोरेज के साथ आता है। अतिरिक्त सुरक्षा के लिए स्मार्टफोन में दाईं ओर पावर बटन में एक फिंगरप्रिंट स्कैनर है।

OnePlus Nord 2T 5G स्मार्टफोन में पीछे की तरफ ट्रिपल कैमरा व्यवस्था है, जिसमें OIS क्षमता वाला 50MP Sony IMX766 प्राइमरी सेंसर, 8MP अल्ट्रावाइड सेंसर और 2MP मैक्रो सेंसर शामिल है। वीडियो कॉल और सेल्फी के लिए स्मार्टफोन में 32MP का फ्रंट कैमरा है।

OnePlus Nord 2T 5G में 4,500mAh की बैटरी है, जो 80W फास्ट चार्जिंग को सपोर्ट करती है। यह Android 12 पर आधारित Color OS 12.1 के साथ पहले से इंस्टॉल आता है। इस स्मार्टफोन की भारत में कीमत लगभग 30,000 रुपये होने का अनुमान है।

Aslam Khan

हर बड़े सफर की शुरुआत छोटे कदम से होती है। 14 फरवरी 2004 को शुरू हुआ श्रेष्ठ भारतीय टाइम्स का सफर लगातार जारी है। हम सफलता से ज्यादा सार्थकता में विश्वास करते हैं। दिनकर ने लिखा था-'जो तटस्थ हैं समय लिखेगा उनका भी अपराध।' कबीर ने सिखाया - 'न काहू से दोस्ती, न काहू से बैर'। इन्हें ही मूलमंत्र मानते हुए हम अपने समय में हस्तक्षेप करते हैं। सच कहने के खतरे हम उठाते हैं। उत्तरप्रदेश से लेकर दिल्ली तक में निजाम बदले मगर हमारी नीयत और सोच नहीं। हम देश, प्रदेश और दुनिया के अंतिम जन जो वंचित, उपेक्षित और शोषित है, उसकी आवाज बनने में ही अपनी सार्थकता समझते हैं। दरअसल हम सत्ता नहीं सच के साथ हैं वह सच किसी के खिलाफ ही क्यों न हो ? ✍असलम खान मुख्य संपादक

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button