विशेष पोस्ट

अब पुराने वाहनों का सड़क पर उतरना पड़ सकता है महंगा, 15 साल से चल रहे पुराने डीजल वाहन पर लगी रोक!

दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण के लिए वाहनों की भारी तादाद बड़ी वजहों में से एक हैं। दरअसल प्रदूषण की मार झेल रही दिल्ली को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए कई तरह के उपाय किए गए, लेकिन इसके बाद भी दिल्ली में प्रदूषण का स्तर बढ़ता ही जा रहा है। हर साल प्रदूषण के कारण कई लोगों की मौत भी हो जाती है।

पिछले दिनों 15 साल पुराने डीजल वाहनों पर पाबंदी की बात की गई थी, अब शासन द्वारा यह आदेश लागू हो चुका हैं। दिल्ली में 15 साल पुराने चल रहे सभी डीजल वाहनों के खिलाफ आज से कार्यवाई शुरू कर दी गई है। दिल्ली परिवहन विभाग ने राजधानी में करीब दो लाख वाहनों को ‘बेकार’ की श्रेणी में डाल दिया है।

इसके साथ ही विभाग ने जिन लोगों की डीजल कारें 15 साल पुरानी हो चुकी हैं, उनका पंजीकरण निरस्त कर दिया है। इसके साथ ही ये आदेश भी जारी किया है कि अगर ये वाहन सड़क पर दिखाई देते है तो उसे जब्त कर लिया जाएगा।

इन गाड़ियों के जब्त किए जाने के बाद इन्हें स्क्रैप (कबाड़ में कटने) के लिए भेजा जाएगा। बता दें कि परिवहन अधिकारियों के मुताबिक ये जानकारी दी गई है कि 15 साल पुराना वाहन, वह निजी हो या व्यावसायिक, सड़क पर कहीं भी है दिखाई नेता है तो उसे स्क्रैप के लिए भेज दिया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button