विशेष पोस्ट

पाकिस्तान के नए कप्तान बने इमरान: PM की कुर्सी के करीब, लेकिन बहुमत से अभी भी दूर!

भारत के पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में बुधवार 25 जुलाई को आम चुनाव के लिए मतदान संपन्न हुआ। मतदान खत्म होने के तुरंत बाद ही पूरे देश में वोटों की गिनती शुरू हो गई, और इमरान खान प्रधानमंत्री पद से चंद कदम ही दूर नजर आ रहे हैं। इमरान खान 118 सीटों के साथ सबसे आगे है। वे बहुमत से 19 सीटें दूर हैं। बहुमत के लिए 137 सीटें जरूरी हैं। नवाज शरीफ के भाई शहबाज के नेतृत्व में चुनाव लड़ रही पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) 60 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है। अगर कुछ सीटें कम भी रह जाती हैं, तो भी शायद ही कोई ताकत इमरान खान को प्रधानमंत्री बनने से रोक पाए।

इमरान खान के लिए कहा जाता है कि वह जब से राजनीति में आए तब से ही प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने के लिए शेरवानी सिलवाए बैठे हैं और जब उन पर फौज के साथ मिलकर राजनीति करने के आरोप लग रहे हैं तो ऐसे में सवाल उठता है कि प्रधानमंत्री बनने के बाद भारत को लेकर उनका रुख़ क्या होगा।

इमरान खान अपने चुनावी भाषणों में कई बार अपनी पहचान पेश कर चुके हैं कि भारत को लेकर वह क्या सोचते हैं यहां तक की अपने धुर विरोधी नवाज शरीफ पर आरोप लगाने में भी वह भारत को घसीटते रहे हैं।

एक दिलचस्प बात यह है कि इमरान खान ने अपने चुनावी भाषणों में प्रधानमंत्री मोदी की ईमानदारी की तारीफ की है और कहा है कि और कुछ भी हो बंदा तो ईमानदार है, नहीं तो उसके भी विदेशों में पैसे होते बैंक अकाउंट होता लेकिन इमरान खान तब तक ही पीएम मोदी की तारीफ करते नजर आते हैं। जैसे ही भारत और पाकिस्तान के रिश्तों की बात आती है, तो इमरान के तेवर काफी तल्ख होते हैं। जिसमें कोई गुंजाइश नजर नहीं आती। हालांकि सत्ता पर बैठने के बाद हर कोई अपने आपको थोड़ा ठीक करने की कोशिश करता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button