विशेष पोस्ट

CJI चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने पद संभालते ही जारी किया नया रोस्टर, खारिज की भाजपा नेता की याचिका!

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट के नये चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने अपने कामकाज के पहले ही दिन बुधवार को एक जनहित (पीआईएल) याचिका खारिज कर दी, और साथ ही नया रोस्टर जारी कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट में जारी नया रोस्टर आज से प्रभावी हो जाएगा। इस नये रोस्टर के मुताबिक, चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया ही जनहित याचिकाओं पर सुनवाई करेंगे। यह नया रोस्टर सुप्रीम कोर्ट के जजों के लिए है। नये मामलों के लिए भी रोस्टर जारी हुआ है।

इस याचिका में भाजपा नेता और वकील अश्विनी उपाध्याय ने चुनाव सुधारों को लेकर दाखिल की थी। अपनी याचिका में उपाध्याय ने चुनावी खर्च का ब्योरा देने की अवधि घटाए जाने की मांग की थी। उन्होंने चुनाव हारने वाले उम्मीदवार को भी चुनावी खर्च का ब्योरा दिए जाने की मांग की थी।

साथ ही चुनाव संबंधी याचिका, कोर्ट की अवमानना से जुड़ी याचिका, सामाजिक न्याय, आपराधिक मामले और संवैधानिक पदों पर नियुक्ति की याचिकाओं जैसे मामलों को किस बेंच के पास भेजा जाना है यह भी खुद रंजन गोगई ही तय करेंगे.

आज ही सुप्रीम कोर्ट के सबसे वरिष्‍ठ जज जस्टिस रंजन गोगोई ने देश के मुख्‍य न्‍यायाधीश का पदभार संभाला, और उन्हें राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पद की शपथ दिलाई। जस्टिस गोगोई इस पद पर पहुंचने वाले पूर्वोत्‍तर भारत के पहले मुख्‍य न्‍यायधीश हैं। जस्टिस गोगोई देश के 46वें प्रधान न्‍यायाधीश हैं और 17 नंवबर 2019 तक उनका कार्यकाल होगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button