विशेष पोस्ट

पुलिस की मानव तस्करी में बड़ी कामयाबी, आदिवासी इलाके की छह लड़कियों नाबालिक को बचा, किया दो मानव तस्कर को गिरफ्तार!

पुलिस ने मानव तस्करों से छह नाबालिग लड़कियों को बरामद किया है। तस्कर नाबालिगों को नौकरी दिलाने के बहाने तस्कर लड़कियों को मध्यप्रदेश से महाराष्ट्र के भुसावल में ले जा रहे थे। पुलिस मानव तस्करों से पूछताछ कर रही है और बताया जा रहा है कि जिले में हजारों आदिवासी लड़कियाँ लापता हैं। जिनका सालों से कुछ पता नहीं चला है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार शाम को यात्री बस महाराष्ट्र जा रही थी। शाहपुर थाना पुलिस बसों की चैकिंग कर रही थी। इसी बस में ये लड़कियां बैठी हुई थी। पुलिस को देख लड़कियाँ सकपका गईं। शक होने पर पुलिस ने बस में सवार लोगों से पूछताछ की तो तस्करी के मामले का खुलासा हुआ। पुलिस ने दो तस्करों को गिरफ्तार किया है। उनके चंगुल से छह आदिवासी नाबालिक लड़कियों को मुक्त करवाया।

बरामद लड़कियों में तीन बजाक थाने और तीन करंजिया थाना इलाके की रहने वाली है। इनमे से तीन लड़कियाँ विशेष संरक्षित बैगा जनजाति और तीन आदिवासी समुदाय की बताई जा रही है। पुलिस ने बताया कि पकड़ गए आरोपियों में एक स्थानीय व्यक्ति गिरोह के एजेंट के रूप में काम करता था। वह ये काम कब से कर रहा है और कितनी लड़कियों को यहाँ से भेज चुका है। पुलिस इसकी पूछताछ कर रही है। यहाँ से लड़कियों को नौकरी का झांसा देकर ले लाया जाता था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button