विशेष पोस्ट

स्लैब गिरने से मलवे में दबी 2 साल की बच्ची की हुई मौत!

सूरत के वेसू केनाल पर ब्यूटीफिकेशन कार्य के तहत बन रहे गेट का 10 टन वजनी स्लैब गिरने की घटना सामने आयी है जिसमे 2 साल की बच्ची की मौत हो गई। यह घटना गुरुवार की दोपहर 12 बजकर 52 मिनट पर घटी। घटना घटने से पहले श्रमिक स्लैब पर खड़े होकर काम कर रहे थे, तभी भारी-भरकम स्लैब धराशायी हो गया और श्रमिक मलबे के नीचे दब गए।

इनमें श्रमिक परिवार की 2 साल की बच्ची शामिल थी जो वहीं पर खेल रही थी कि अचानक से हादसे के बाद उसकी मौके पर ही मौत हो गई। स्लैब गिरने का आवाज सुनकर आस-पास के लोग वहां जमा हो गए। इस दौरान स्लैब बीच में से टूटकर गिर गया। और इस हादसे में 3 महिलाओं समेत 8 लोग घायल भी हो गए और घायलों को न्यू सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

वहाँ से गुजर रहे राहगीर भी श्रमिकों की मदद में जुट गए और मलबे में दबे श्रमिक बचाव के लिए चीख-पुकार कर रहे थे। लोगों ने एक-एक कर श्रमिकों को बाहर निकाला। घटना की सूचना मिलने पर दमकलकर्मी, पुलिस और मनपा अधिकारी मौके पर पहुँचे।

सूरत महानगर पालिका के विभिन्न प्रोजेक्ट के निर्माण के दौरान पहले भी हादसे हो चुके हैं और श्रमिकों को जान गवानी पड़ी है। मजूरा गेट ब्रिज का स्पान गिरने से तीन श्रमिकों की मौत हो गई थी। अठवा लाइंस ब्रिज हादसे में 10 से अधिक श्रमिकों की मौत हुई थी, जबकि 20 से अधिक घायल हो गए थे। इसके अलावा अमरोली ब्रिज के निर्माण के वक्त भी स्पान गिरने से एक श्रमिक की मौत हुई थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button